41 डिग्री तापमान कि धूप में घण्टो खड़े रहते है अन्नदाता किसान

0

बैंक स्टॉफ किसानों से करता है अभद्रता, किसानों में आक्रोश

धार/अमझेरा । शैलेन्द्र पँवार
धार जिले के अमझेरा नगर की जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित संस्था अमझेरा में अव्यवस्था व स्टॉफ के बुरे बर्ताव से अन्नदाता किसान परेशान है। केसीसी की राशि के लिए किसानों को भीषण गर्मी में घण्टो खड़े रहना पड़ता है। कोई कुछ भी अगर कहे तो बैंक स्टॉफ अपशब्दों का उपयोग करते है बेचारे किसान चुप चाप खड़े रहते है। बस स्टैंड के समीप स्थित बैंक के बाहर रोड पर किसान लाइन लगाए खड़े रहते है।

गुरुवार को भी अमझेरा के किसान जब इस मामले में बैंक प्रबंधक से चर्चा करने गए तो प्रबंधक का कहना था कि समय से ज्यादा हम काम कर रहे है वही पीने के पानी की व्यवस्था के सम्बंध में कहा तो बोले कि कोई पानी नही लाता आप व्यवस्था करवा दो वही बैंक में पदस्थ आपरेटर अनिल वर्मा किसानों को अपशब्द कहने लग गए। किसान शंकर हामड़, पप्पू कुशवाह, विजय दीक्षित आदि ने धार डी एम धनवाल से चर्चा की तो उनका कहना था कि बैंक में अव्यवस्था की शिकायत मिल रही है इस पर तुरंत कार्यवाही की जाएगी। बैंक में होने वाली परेशानी व अभद्रता की कई किसानों ने सीएम हेल्पलाइन पर भी शिकायत की है विगत दिनों ही किसान भगवान पिता पुनाजी निवासी सुल्तानपुर से बैंक प्रबंधक शैलेश नीमा द्वारा अभद्रता कर अपशब्द कहे थे।

जिस देश में किसानों को अन्नदाता का दर्जा दिया जाता है और सरकार उन्हीं अन्नदाताओ कि सुविधाओं के लिये पानी कि तरह रूपये बहाती है वही श्री नीमा जैसे प्रबंधक किसानों को प्राप्त सुविधाओं में तो सेंध लगा ही रही है वहीं किसानों से अभद्रता करने से भी नहीं चूक रहे है। इधर जब हमारी टीम ने जिला महाप्रबंधक पी. एस. धनवाल से पुरे मामले कि चर्चा कि तो बताया गया कि शाखा प्रबंधक को तत्काल प्रभाव से हटाकर बाघ भेजा है, वही बाघ के शाखा प्रबंधक भोलेसिंह राणा को अमझेरा शाखा का प्रभार दिया गया है।

यह भी पढ़ें:   मध्यप्रदेश में आगामी पंचायत एवं नगरीय निकाय चुनाव जल्द-से-जल्द कराने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने कस ली कमर :

Leave A Reply

Your email address will not be published.