नगरीय प्रशासन की बंदरबांट योजना मे एक और इजाफा

0



कई पार्षदों को अवैध वसूली के खेल में धकेला



नरवर नगर परिषद क्षेत्र में मौजूद दर्शनीय स्थल लोढ़ी माता मंदिर पर चार पहिया वाहनों से आने वाले श्रद्धालुओं से पार्किंग के नाम पर प्रत्येक छोटे चार पहिया वाहन से 50 रुपए की राशि वसूली जा रही है। जब इस संबंध में कार्यालय में अन्य लोगों से जानकारी ली गई तो किसी से कोई जानकारी प्राप्त नही हुई। मंदिर पर आने वाले श्रद्धालुओं ने बताया कि रास्ते में रोक करकुछ लोगों द्वारा पार्किंग शुल्क की रसीद दी जा रही है। मौके पर देखा गया की राशि वसूली करने वालों के साथ नगरीय क्षेत्र के कई पार्षद मौजूद हैं। लेकिन ठेका किसके नाम से है ठेकेदार कोन है वसूली करने वाले आधा दर्जन लोग जो सड़क के बीचों बीच बेरिकेट लगा कर वाहन रोक कर वसूली कर रहें हैं। प्राप्त सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रशासन द्वारा पार्किंग स्थल पर खड़े वाहनों से पार्किंग शुल्क के लिए टेंडर स्वीकृत किया गया है। पुराने बाईपास रोड पर बने मिनी बस स्टैंड पर वाहनों की पार्किंग की स्वीकृति दी गई है। लेकिन पार्किंग स्थल पर प्रशासन की लापरवाही से निकाय में कार पार्किंग शुल्क की वसूली करने वाले लोढ़ी माता मंदिर के क्षेत्र के अन्य स्थान पर खड़े वाहनों की रसीद काटते हुए दिखाई दे रहे हैं। 29अप्रैल से वसूली का कारोबार शुरू हुआ लगभग 400 वाहनों से अधिक वाहनों से की गई वसूली एक ही दिन में वसूले गए लगभग 20 हजार रुपए से अधिक। दूसरे दिन से अवैध वसूली में गिरावट के साथ कारोबार हुआ शुरू पार्किंग की वसूली 20 रुपए पर आकर थमी। लोढ़ी माता मंदिर पर आने वाले हजारों श्रद्धालुओं से पार्किंग शुल्क के नाम पर अवैध वसूली का कारोबार जारी रहेगा या फिर जिम्मेदार यहां
मंदिर पर आने वाले श्रद्धालुओं के हक में न्याय कर निर्देशानुसार वसूली करने के निर्देश जारी करते हैं या नहीं। या फिर तमाशबीन बने रहते हैं।

नरवर से कृपाल सिंह सोलंकी की रिपोर्ट

यह भी पढ़ें:   लोडिंग पलटने से घायल यात्रियों से मिलने पहुंचे कांग्रेस नेता कैलाश ने जाना हाल चाल और वितरित किए फल

Leave A Reply

Your email address will not be published.