पशु अस्पताल में ड्यूटी करने नहीं आते डॉक्टर, पशुओं का इलाज नहीं करा पा रहे ग्रामीण

0



अस्पताल परिसर में जुआ खेलने के साथ शराब पी रहे लोग

अंबाह // नगर का पशु अस्पताल डॉक्टर्स की लापरवाही के चलते असामाजिक तत्वों का अड्डा बना हुआ है। यहां दिन के समय खुलेआम बैठकर आपराधिक तत्व शराब का सेवन कर रहे हैं, वहीं कुछ लोग जुआ खेल रहे हैं। हैरानी की बात यह है कि अस्पताल प्रबंधन का इस ओर कोई ध्यान नहीं है।

पशुओं का इलाज कराने आए ग्रामीणों ने बताया कि जब भी वे पशुओं के बीमार होने पर इलाज के लिए पशु अस्पताल आते हैं तो यहां डॉक्टर नहीं मिलते। जिससे ग्रामीणों को बगैर इलाज कराए ही गांव वापस लौटना पड़ रहा है। इस संबंध में पशुपालन अधिकारी डॉ पीएस भदौरिया को कॉल किया गया तो उन्होंने बताया कि वे बाहर गए हुए हैं। उन्होंने दूसरे चिकित्सक पर चार्ज होने की बात कहीं। इसके बाद चिकित्सक शैलेश शर्मा से

चर्चा की गई तो उन्होंने भी बाहर होने की बात कही। ग्रामीणों ने यह भी बताया कि अस्पताल परिसर में आवारा लोग बैठे रहते हैं। जो शराब पीने या जुआ खेलते रहते हैं। लेकिन इसके बाद भी अस्पताल प्रबंधन व पुलिस की और से कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

यह भी पढ़ें:   ज्ञान उदय प्रतियोगिता परीक्षा में द्वितीय स्थान प्राप्त कर विद्यालय व कोचिंग का नाम रोशन किया

Leave A Reply

Your email address will not be published.