स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा बर्मिंघम में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में 37 सदस्यीय टीम की करेंगे अगुवाई :

0

एएफआई की चयन समिति की चुनी गई 37 सदस्यीय टीम में 18 महिला खिलाड़ी हैं, जिसमें स्टार धावक हिमा दास और दुती चंद हैं। इन्हें महिला चार गुणा 100 मीटर रिले टीम में शामिल किया गया है। चयनकर्ताओं ने पुरुष चार गुणा 400 मीटर रिले टीम का भी चयन किया है।बृहस्पतिवार को एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एएफआई) ने सूचना दी।

हाल में आठवीं बार अपना 3000 मीटर स्टीपलचेज राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ने वाले अविनाश साब्ले और पिछले महीने दो बार 100 मीटर का अपना ही राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ने वाली ज्योति याराजी को भी टीम में जगह मिली है। चेन्नई में हाल में राष्ट्रीय अंतर राज्यीय चैंपियनशिप में 14.14 मीटर के प्रयास के साथ त्रिकूद में अपना ही रिकॉर्ड तोड़ने वाली ऐश्वर्या बाबू भी टीम का हिस्सा हैं। दो सौ मीटर में राष्ट्रीय रिकॉर्ड धारक अमलान बोरगोहेन टीम में जगह नहीं बना पाए क्योंकि वह एएफआई द्वारा तय राष्ट्रमंडल खेलों का क्वालीफाइंग स्तर हासिल नहीं कर पाए। चुने गए कुछ खिलाड़ियों को बर्मिंघम खेलों से पहले अपनी फॉर्म और फिटनेस हासिल करनी होगी।

भारतीय टीम –
पुरुष : अविनाश साब्ले (3000 मीटर स्टीपलचेज), नितेंदर रावत (मैराथन), एम श्रीशंकर और मोहम्मद अनीस याहिया (लंबी कूद), अब्दुल्ला अबुबाकर, प्रवीण चित्रावेल और एल्दोसे पॉल (त्रिकूद), तेजिंदरपाल सिंह तूर (गोला फेंक) नीरज चोपड़ा, डीपी मनु और रोहित यादव (भाला फेंक), संदीप कुमार और अमित खत्री (पैदल चाल), अमोज जैकब, नोह निर्मल टॉम, अरोकिया राजीव, मोहम्मद अजमल, नागनाथन पांडी और राजेश रमेश (चार गुणा 400 मीटर रिले)।

महिला : एस धनलक्ष्मी (100 मीटर और चार गुणा 100 मीटर रिले), ज्योति याराजी (100 मीटर बाधा दौड़), ऐश्वर्या बी (लंबी कूद और त्रिकूद) और एंसी सोजन (लंबी कूद), मनप्रीत कौर (गोला फेंक), नवजीत कौर ढिल्लो, सीमा अंतिल पूनिया (चक्का फेंक), अन्नु रानी व शिल्पा रानी (भाला फेंक), मंजू बाला सिंह और सरिता रोमित सिंह (तार गोला फेंक), भावना जाट व प्रियंका गोस्वामी (पैदल चाल), हिमा दास, दुती चंद, श्रावणी नंदा, एमवी जिलाना और एनएस सिमी (चार गुणा 100 मीटर रिले)।

यह भी पढ़ें:   टोक्यो में उपलब्ध संसाधन के दम पर जापान ने बाजी मारी,2025 'विश्व चैम्पियनशिप' की मिली मेजबानी :

Leave A Reply

Your email address will not be published.