एकेएस विश्वविद्यालय सतना में दीक्षारंभ 2023-24

0

सतना। सोल ऑफ़ इंडिया अवार्ड 2023 इन ब्रिटिश पार्लियामेंट, हाउस ऑफ़ लॉर्ड्स और आउटलुक सर्वे 2022 इंडियास बेस्ट प्राइवेट यूनिवर्सिटीज में 25वीं रैंक के लिए चयनित एकेएस विश्वविद्यालय सतना में दीक्षारंभ 2023, 24 हुआ ।इस विषय पर विश्वविद्यालय के कुलाधिपति माननीय श्री बी.पी. सोनी,प्रोचांसलर अनंत कुमार सोनी,प्रो.बी ए.चोपड़े ने कार्यक्रम का शुभारंभ मां शारदा की प्रतिमा के समक्ष वाणी से, सुगंधित पुष्पों के अर्पण,अक्षत रोली और मां के चरणों में वंदन के साथ मां की स्तुति के साथ प्रारंभ किया। उत्साह से लबालब नवप्रवेशी स्टूडेंट्स को विश्वविद्यालय के प्रांगण प्रवेश द्वार में जानकारी प्रदान की गई की प्रबोधन कार्यक्रम में छात्रों को उच्च शिक्षण संस्थानों में प्रवेश लेने के साथ ही उसे संस्थान से संबंधित सभी जानकारियां प्रदान की जाती हैं ।

प्रबोधन कार्यक्रम में संस्थान की रैंकिंग वहां से पढ़कर निकलने वाली प्रमुख हस्तियां, संस्थान में कौन सी सुविधा जैसे वाहन सुविधा फीस काउंटर, स्टूडेंट काउंसलिंग किस जगह मौजूद है आदि जानकारियां नवप्रवेशी विद्यार्थियों और उनके साथ आए उनके परिजनों के साथ शेयर की गई। भारतीय परंपरा के अनुसार अतिथियों का स्वागत पुष्प गुच्छ से किया गया। विश्वविद्यालय के कुलगीत एकेएस शिक्षा देती …..का गायन किया गया। विश्वविद्यालय के कुलाधिपति माननीय श्री बी.पी.सोनी जी ने स्टूडेंट को आशीर्वचन प्रदान किया उन्हें उनके देखे गए सपनों को पूर्ण करने के लिए उन्होंने आशीर्वचन दिए। उल्लेखनीय है की एकेएस विश्वविद्यालय में मेधावी स्टूडेंट्स के लिए स्कॉलरशिप योजना उन्हीं की देन है वह विश्व सरकार के भी प्रणेता हैं।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर बी.ए.चोपड़े ने स्टूडेंट को संबोधित किया और अपने बहुमूल्य अनुभव शेयर किए । आईटी एक्सपर्ट श्री आर.के.मोदी जी ने अपने प्रेरणास्पद व्याख्यान से स्टूडेंट्स को ढेर सारी ऊर्जा से भरा. विश्वविद्यालय के प्रोचांसलर अनंत कुमार सोनी,डायरेक्टर अमित कुमार सोनी ने भी स्टूडेंट्स को संबोधित किया। दीक्षारंभ समारोह में सभी विभाग शामिल हुए। जिनमे फैकेल्टी आफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी ,फैकेल्टी आफ कंप्यूटर एप्लीकेशन एंड आईटी साइंस,फैकल्टी ऑफ़ एग्रीकल्चर साइंस टेक्नोलॉजी,फैकल्टी ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, डिप्लोमा इंजीनियरिंग प्रोग्राम ,फैकल्टी ऑफ़ लाइफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी,फैकल्टी ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंस एंड टेक्नोलॉजी, फैकेल्टी ऑफ़ बेसिक साइंस, डिपार्टमेंट ऑफ़ पैरामेडिकल साइंसेज, फैकेल्टी ऑफ ह्यूमैनिटीज एंड सोशल साइंसेज, फैकेल्टी ऑफ़ एजूकेशन,फैकल्टी ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडीज,फैकल्टी ऑफ़ कॉमर्स एंड फाइनेंशियल स्टडीज, फैकल्टी ऑफ़ लॉ शामिल हुए।इंडक्शन कार्यक्रम के दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां भी हुई ।मंच के माध्यम से लाइफ जर्नी एक्सपीरियंस से प्रो.अनिल मित्तल,डॉ अखिलेश ए. बाऊ,डॉ.आर.सी.त्रिपाठी,डॉ पंकज श्रीवास्तव,कमलेश चौरे, श्री राजीव बैरागी,डॉ.धीरेंद्र ओझा ने रूबरू कराया।

यह भी पढ़ें:   हनुमान चालीसा का होगा भव्य पाठ

विश्वविद्यालय द्वारा प्रदान की जाने वाली सुविधाओं और सपोर्ट सिस्टम पर अवनीश मिश्रा ने जानकारी दी। एनसीसी एनएसएस और यूसीसी पर विस्तृत जानकारी कैप्टन रावेंद्र सिंह परिहार, डॉ.महेंद्र कुमार तिवारी,डॉ दीपक मिश्रा, इंजी.रमा शुक्ला और कैप्टन प्राची सिंह ने दी। मैनेजमेंट,कॉमर्स डिपार्टमेंट के दीक्षारंभ कार्यक्रम के कोऑर्डिनेटर प्रमोद कुमार द्विवेदी, एंकरिंग शीनू शुक्ला
और कल्चरल कार्यक्रम कोऑर्डिनेटर शैलेंद्र कुमार रहे। कार्यक्रम के दौरान डॉ.हर्षवर्धन डॉ आर.एस.त्रिपाठी,डॉक्टर कौशिक मुखर्जी के साथ विभाग के सभी प्राध्यापक प्रमुख रूप से उपस्थित रहे। ह्यूमैनिटीज एंड एजुकेशन डिपार्टमेंट के कार्यक्रम के कोऑर्डिनेटर दिलीप कुमार तिवारी, कार्यक्रम की एंकरिंग शिवम पांडे ने और कल्चरल प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर प्रमोद कुमार रहे ।

डॉ. शेखर मिश्रा,डॉ.आर. एस.निगम के साथ विभाग के सभी प्राध्यापक खास तौर से उपस्थित रहे। बी.टेक और कंप्यूटर साइंस डिपार्टमेंट के कार्यक्रम के कोऑर्डिनेटर मनीष अग्रवाल,एंकरिंग चंद्रशेखर गौतम और कल्चरल प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर प्रियेश झा और सत्यम त्रिपाठी रहे। डिप्लोमा इंजीनियरिंग के कार्यक्रम में कोऑर्डिनेटर डॉक्टर महेंद्र कुमार तिवारी और डॉक्टर दिनेश मिश्रा रहे कल्चरल प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर शैलेंद्र कुमार रहे,लाइफ साइंस, फार्मेसी, बेसिक साइंस और पैरामेडिकल साइंस के स्टूडेंट के कार्यक्रम में वीरेंद्र मिश्रा और प्रभाकर सिंह तिवारी कोऑर्डिनेटर रहे। संचालन डॉ. अश्वनी ए.बाऊ ने किया, डॉ.जी. पी.रिछारिया,डॉ. सूर्य प्रकाश गुप्ता ने स्टूडेंट्स को एकेडमिक जानकारी से रूबरू कराया।एग्रीकल्चर साइंस, एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग और फूड टेक्नोलॉजी का दीक्षारंभ कार्यक्रम भी संपन्न हुआ।सभी विभाग के इंडक्शन में एल्यूमिनी इंटरेक्शन हुए। दीक्षारंभ लॉ डिपार्टमेंट के कोऑर्डिनेटर डॉ.सुधीर जैन, श्री सूर्यनाथ सिंह गहरवार और कार्यक्रम की एंकरिंग गायत्री राठौर ने,कल्चरल प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर सत्यम त्रिपाठी और उमेश बर्मन रहे। इंडक्शन कार्यक्रम समाप्त होने के पश्चात सभी स्टूडेंट्स नए सपने और नए अरमान लेकर अपनी अगली कक्षाओं में आएंगे और अपने प्राध्यापकों के मार्गदर्शन में अपने भविष्य की कड़ियां जोड़ेंगे। विश्वविद्यालय प्रबंधन ने समस्त विभागों और स्टूडेंट को कार्यक्रम के सफल आयोजन की बधाई दी है।कार्यक्रम का समापन राष्ट्र गान से किया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.