शपथ ग्रहण के प्रथम वर्षगांठ पर होगा कवि सम्मेलन का आयोजन

0



वाह भाई वाह सहित राष्ट्रीय स्तर के कवि होंगे शामिल

अनूपपुर पौराधार/राजनगर- अनूपपुर से यशपाल सिंह जाट की रिपोर्ट
नवगठित नगरीय निकाय डूमरकछार का प्रथम निर्वाचन के उपरांत निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के निर्वाचन के उपरांत 1 सितंबर 2022 को शपथ ग्रहण समारोह डूमरकछार नगर परिषद में संपन्न हुआ था,शपथ ग्रहण समारोह के प्रथम वर्षगांठ के अवसर पर स्वस्थ मनोरंजन के दृष्टि से राष्ट्रभक्ति,हास्य,व्यंग आंशू ,ओज, श्रृंगार ,गीत,गजल एवं विधाओं से परिपूर्ण कई राष्ट्रीय स्तर के कवियों का समागम कवि सम्मेलन के रूप में डूमरकछार नगर परिषद के पौराधार कालोनी में 1 सितंबर को हो रहा है।
इस कवि सम्मेलन का संचालन
डॉ.नरेन्द्र मिश्र धड़कन चिरमिरी छ.ग. राष्ट्रीय कवि मंच का संचालन करेंगे, पूरे देश में काव्य पाठ के साथ ही इनकी 37 पुस्तके अब तक प्रकाशित की चुकी है।
कौशल सक्सेना हास्य,ओज एवं संचालक के लिए एक ख्याति प्राप्त कवि मध्य प्रदेश के रायसेन से हैं।
नरेन्द्र सिंह अकेला,आशू कवि मंच संचालक उज्जैन सैकड़ो पुरुस्कार,ईटीवी,जीटीवी में काव्य पाठ, कौशल सम्मेलन, हास्य,ओज एवं संचालक के ख्यातिलब्ध कवि ने पूरे देश में अपनी अलग छाप छोड़ी है।
दिनेश गुक्कज,हास्य कवि प्रतापगढ उ.प्र. राजघराने के फकीर कवि हास्य के विस्फोटक कवि के नाम से मशहूर हैं।
भूपेन्द्र सिंह राठौर ओज कोटा,राजस्थान से राष्ट्र जागरण,वंदना की प्रस्तुति के लिए इन्हें जाना पहचाना जाता है,ये व्यस्तम कवियों में से एक है।
ड्रा.लता स्वराजंलि भोपाल श्रृंगार रस की एक बड़ी कवित्री है, इनकी अनेक पुस्तके प्रकाशित हो चुकी है साथ ही दूरर्शन,आकाशवाणी एवं कई मंचो पर इनका काव्य पाठ हो चुका है।
अकबर ताज देशगीत खंडवा, सूरदास,रसखान को जीने वाले ये कवि दूरदर्शन, वाह भाई वाह भीम जन्म से ही दिव्यांग है।
कवि आशीश शुद्ध-हास्य, युवा दिलों की धड़कन बन गये है ये प्रयागराज से है, वाह भाई वाह में भी शिरकत कर चुके हैं।

इस प्रकार से एक सितंबर को मध्य प्रदेश के शुरुआती छोर नगर परिषद डूमरकछार के पौराधार कालोनी में या यू कहे कि इस क्षेत्र में वर्षों बाद कवि सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है,इस क्षेत्र में बड़े स्तर पर संपन्न होने वाले कवि सम्मेलन की जानकारी मिलने पर कवि सम्मेलन एवं कविता पाठ में रुचि रखने वाले नागरिकों,काव्यप्रेमियों, साहित्यकारों में हर्ष, उल्लास और उमंग व्याप्त है इस छोटे से क्षेत्र में इस तरह के बड़े आयोजन की रचना किए जाने में कई प्रकार की समस्याएं होती है पर फिर भी नगर परिषद डूमरकछार की टीम ने परिषद के अध्यक्ष सुनील कुमार चौरसिया के नेतृत्व में इस राष्ट्रीय स्तर के कवि सम्मेलन /काव्य पाठ को संपन्न करने का निर्णय लिया है,आयोजको का मानना यह भी है कि स्वस्थ मनोरंजन के लिए इस प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम होते रहना चाहिए आज की चमक धमक के युग में हमारी संस्कृति को हमें याद दिलाने वाले,राष्ट्रभक्ति,तात्कालिक विषयों पर कविता के माध्यम से ज्ञानवर्धन करने वाले आयोजनों की आज समाज मे कमी है इसी क्रम में यह कवि सम्मेलन क्षेत्रवासियों के लिए एक अच्छा संदेश लेकर आया है,आयोजक मंडल ने आसपास के क्षेत्र के तमाम कवि प्रेमियों, साहित्यकारों, रचनाकारों, समाजसेवियों ,जनप्रतिनिधियों,नागरिकों सभी से कवि सम्मेलन में पहुंचकर काव्य पाठ का आनंद उठाने की अपील की है।

यह भी पढ़ें:   इंद्रदेव को रिझाने के किए उपाय,ताकि क्षेत्र में अच्छी बारिश आए

Leave A Reply

Your email address will not be published.