चुनाव प्रचार को परे रखकर मानवता की खातिर कड़कड़ाती ठंड में बैठे अर्जुन सिंह ककोडिया

0



कमल मर्सकोले को जानकारी होने के बाद भी गाजे बाजे के साथ लगे रहे प्रचार में

सिवनी

बुधवार को विधानसभा बरघाट अंतर्गत कुरई क्षेत्र में खवासा के सावरीरीठ बिछुआ गांव में खेत में काम कर रही महिला पर बाघ ने हमला करके महिला का शिकार कर लिया।
इस दुखद घटना की जानकारी लगते ही कांग्रेस विधायक अर्जुनसिंह ककोड़िया तुरंत अपने प्रचार प्रसार को रोक करके सीधे घटनास्थल पर पहुंचे वहां पीड़ित परिवार की व्यथा देखकर के सारे कार्यक्रम को निरस्त कर मानवता की खातिर अर्जुन सिंह ककोड़िया कड़ाके की ठंड में ग्रामीणों की सुरक्षा की खातिर रात भर अन्न जल का त्याग कर आमरण अनशन पर बैठ गए।
अर्जुन सिंह ककोड़िया ने दर्द जाहिर करते हुए कहा कि विगत 2 माह में लगभग 7 8 लोगों को बाघ उनके विधानसभा क्षेत्र पर निशाना बन चुका है। आज मेरे विधानसभा की जनता दहशत के माहोल में हे। मेरे विधानसभा की जनता ने मुझे अपना आशीर्वाद इसलिए दिया कि मैं उनके हर दुख दर्द में शामिल हूं और उनकी हर कठिनाई और परेशानी की आवाज को ऊपर तक रख सकूं । आए दिन बाघ के हमले वाली घटनाओं
इसके बावजूद भी शासन प्रशासन लोगों की सुरक्षा को लेकर किसी भी तरीके से सक्रिय नजर नहीं आ रहा है।
अनशन स्थल से ही उन्होंने कलेक्टर को पत्र लिखकर विदित कराया कि उनके विधानसभा क्षेत्र में पिछले माह में 7 से 8 लोगों को बाघ अपना शिकार बन चुका है। इतनी गंभीर घटना होने के बाद भी शासन प्रशासन के मामले पर किसी भी तरीके से सक्रिय नजर नहीं आ रहा है और लोगों की सुरक्षा की मांग के कारण अन्न जल त्याग करके आमरण अनशन पर बैठना पड़ा। वही रात भर सरकारी महकमा अर्जुन सिंह काकोड़िया को मनाने में जुटा रहा वहीं अर्जुन सिंह का कोरिया द्वारा यथोचित व्यवस्था किए जाने एवं मृतक के परिवारजन को शासकीय नौकरी आदि की सुविधा दिए जाने के पर ही अनशन समाप्त किए जाने की बात की गई।
चुनावी माहौल होने पर एक तरफ भाजपा प्रत्याशी कमल मर्सकोले द्वारा उक्त घटना की जानकारी होने के बावजूद भी ढोल बाजे कैसे लेकर अपने कार्यकर्ताओं के साथ अपना जनसंपर्क जारी रखना और लाडली बहन की किस्त जारी होने का गुणगान जनसंपर्क दौरान करते हुए देखा गया वहीं कमल मर्सकोले द्वारा विधानसभा क्षेत्र में घटित इस घटना को गंभीर न लेते हुए उक्त दुखद परिवार के दुख मैं भी शामिल होना यथोचित नहीं समझा गया। जो कि क्षेत्र में मतदाताओं के बीच में एक विशेष चर्चा का विषय बनकर नजर आया।

संभागीय प्रतिनिधि अजय कर्वेती उदघोष समय

यह भी पढ़ें:   वन परिक्षेत्र शिकारा के अधिकारीयों और कर्मचारियों के मिलीभगत से बन रही है घटिया सड़क

Leave A Reply

Your email address will not be published.