*बेरोजगारों के लिए* *मनेंद्रगढ़ केंद्रीय विद्यालय वार्ड क्रमांक 3,विवेकानंद कालेज,शाश्कीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कत्था ड्रेस वार्ड क्रमांक 18 में लगाया गया बेरोजगारी भत्ता क्लस्टर लेवल सत्यापन शिविर*

0


*सम्भाग ब्यरो दुर्गा गुप्ता*

मनेंद्रगढ़ जिला एमसीबी बेरोजगारों के लिए मनेंद्रगढ़ केंद्रीय विद्यालय वार्ड क्रमांक 3,विवेकानंद कालेज,शाश्कीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कत्था ड्रेस वार्ड क्रमांक 18 में लगाया गया बेरोजगारी भत्ता क्लस्टर लेवल सत्यापन शिविर वार्ड क्रमांक 3 केंद्रीय विद्यालय में वार्ड क्रमांक 1 से 6 तक के वार्ड क्रमांक 18 शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में 07,8,9,10,11,12,17 और 19 वार्डो का सत्यापन किया जाएगा, विवेकानंद कॉलेज में वार्ड क्रमांक 13,14,15,16,18,20,21,और 22 वार्डों के बेरोजगारों के आवेदनो का सत्यापन किया जयेगा
छत्तीसगढ़ के बेरोजगार युवाओं को एक अप्रैल से हर माह ढ़ाई हजार रुपए बेरोजगारी भत्ता योजना की हुई शुरुआत. इस योजना का लाभ उन्हीं बेरोजगार युवाओं को मिलेगा जिनके परिवार की आय ढाई लाख रुपए सालाना से कम हेागी.
बेरोजगारी भत्ता योजना एक अप्रैल 2023 से होगी लागू
आधिकारिक जानकारी के अनुसार, राज्य में एक अप्रैल 2023 से बेरोजगारी भत्ता योजना लागू हो गईं है. इस योजना के अंतर्गत बेरोजगारों को हर माह 2500 रूपए का भुगतान सीधे उनके बैंक खाते में जाएगा. बेरोजगारों को साथ ही कौशल विकास का प्रशिक्षण भी दिया जाएगा और उन्हें रोजगार प्राप्त करने में सहायता दी जाएगी.

*कैसे मिलेगा योजना का फायदा*?

बेरोजगारी भत्ता योजना का लाभ लेने वाले आवेदक के पूरे परिवार की आय सलाना 2.50 लाख रूपए से कम होनी चाहिए. परिवार से तात्पर्य पति-पत्नी, 18 वर्ष से कम आयु के आश्रित बच्चे और आश्रित माता-पिता से है.

*बेरोजगारी भत्ते के लिए क्या है पात्रता*?
बेरोजगारी भत्ता योजना के आवेदक को छत्तीसगढ़ का मूल निवासी होना आवश्यक है. योजना के लिए आवेदन किए जाने वाले वर्ष के एक अप्रैल को आवेदक की उम्र 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए. आवेदक मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम हायर सेकेण्डरी यानी 12वीं कक्षा पास हो. साथ ही छत्तीसगढ़ के किसी भी जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केंद्र में पंजीकृत हो और आवेदन के वर्ष की एक अप्रैल की स्थिति में हायर सेकेण्डरी या उससे अधिक योग्यता से उसका रोजगार पंजीयन न्यूनतम दो वर्ष पुराना हो.

*किन लोगों को मिलेगा स्कीम का फायदा*

इस योजना का लाभ उन्हीं आवेदकों को मिलेगा जिनकी स्वयं की आय का कोई स्रोत न हो और आवेदक के परिवार के सभी स्रोतों से वार्षिक आय ढाई लाख रूपए से अधिक न हो. पारिवारिक आय हेतु तहसीलदार या उससे उच्च राजस्व अधिकारी द्वारा जारी आय प्रमाण पत्र बेरोजगारी भत्ता की आवेदन तिथि से एक वर्ष के अंदर ही बना हो.

यह भी पढ़ें:   *वार्ड क्रमांक 21 अहमद कालोनी अटल कुंज मनेंद्रगढ़ में भाजपा का नबीन कार्यालय का हुआ शुभारम्भ*

Leave A Reply

Your email address will not be published.