गोरखपुर में दिल दहलाने वाली घटना महिला ने पति व दो बेटों की गला रेत कर की हत्या

0



गोरखपुर जिले के सजनवा का है निर्दई महिला ने अपने पति के साथ दो सौतेले बेटों की गला रेत कर मौत के घाट उतार दिया पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है मामले की छानबीन जारी चल रही है।
गोरखपुर जिले में दिलदार आने वाला मामला सामने आया या सहजनवा थाना क्षेत्र के नगर पंचायत 5 में शनिवार की रात 1:30 बजे एक महिला ने पति समेत अपने दो सौतेले बेटों की गला रेत कर हत्या कर दी रविवार की सुबह सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है आरोपित सजनवा नगर पंचायत का महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है
पता चल रहा है कि महिला अवैध संबंध होने के कारण हत्या कर दी उसने दूसरी शादी की थी।

सजनवा नगर पंचायत वार्ड नंबर 5 शाहबाजगंज निवासी 40 वर्षीय अवधेश गुप्ता पुत्र स्वर्गीय मेल गुप्ता ने अपनी पहली पत्नी की मृत्यु के बाद दूसरी शादी की है पहली पत्नी से उसके दो पुत्र आर्यन और पीहू उर्फ आरो थे करीब आठ माह पहले संत कबीर नगर जिले के धनघटा थाना क्षेत्र के मजगामा निवासी नीलम से उसकी दूसरी शादी हुई थी।

आरोपित नीलम की भी दूसरी शादी थी पहली शादी से उसे एक पुत्री है शादी होने के बाद नीलम अपनी एक पुत्री के साथ अवधेश के घर आ गई और पति सौतेले बेटों के साथ रहने लगी महिला ने पुलिस को फोन पर बताई थी यह बात आरोप है कि शनिवार की रात महिला ने खुद डायल 112 नंबर पर पुलिस को सूचना देते हुए बताया कि कुछ लोग घर पर उसके पति और बेटों के साथ मारपीट कर रहे हैं मौके पर पहुंची पुलिस ने जब महिला के बताए कमरे को खोली तो अवधेश और उसकी दोनों पुत्र आर्यन और आरोप खून से लथपथ बिस्तर पर पड़े हुए तड़प रहे थे पुलिस तत्काल इलाज के लिए जिला अस्पताल लेकर आए गई जहां अवधेश प्रेमी घोषित कर दिया इलाज के दौरान दोनों बच्चे ने दम तोड़ दिया।
पुलिस ने आरोपी महिला को गिरफ्तार कर चाकू भी बरामद किया प्रभारी सजनवा नितिन रघुनाथ श्रीवास्तव ने बताया कि महिला को गिरफ्तार कर लिया गया है पूछताछ चल रही है।


उद्घोष समय लाइव न्यूज़ टीवी चैनल से उत्तर प्रदेश हेड ए के मिश्रा की खास रिपोर्ट।
सच की आवाज उत्तर प्रदेश की बड़ी से बड़ी खबरों के साथ पल-पल की खबर सबसे पहले आपके पास?️
?️

यह भी पढ़ें:   गोरखपुर जिला के कैम्पियरगंज में एस एस बी कैम्प को मिली जमीन, एसडीएम ने सौंपा कागजात।

Leave A Reply

Your email address will not be published.