एकेएस विश्वविद्यालय सतना में कैपेसिटी डेवलपमेंट ऑफ़ फैकेल्टी मेंबर्स फॉर एसेसमेंट एंड एक्रीडिटेशन ऑफ यूनिवर्सिटीज पर त्रिदिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम।

0


एकेएस विश्वविद्यालय सतना के केंद्रीय सभागार में दिनांक 3 जुलाई 2023 को कैपेसिटी डेवलपमेंट ऑफ फैकेल्टी मेंबर्स एसेसमेंट एंड एक्रीडिटेशन ऑफ यूनिवर्सिटीज विषय पर आधारित तीन दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का शुभारंभ प्रोफेसर राम कृष्णा ,डीन क्वालिटी एश्योरेंस एवं डायरेक्टर, आइक्यूएसी विज्नान विश्वविद्यालय, गुंटुर आंध्र प्रदेश के मुख्य आतिथ्य में हुआ। कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए डायरेक्टर आइक्यूएसी एकेएस विश्वविद्यालय सतना के प्रोफेसर जीसी मिश्रा ने स्वागत भाषण दिया। विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति डॉ हर्षवर्धन ने विश्वविद्यालय की गतिविधियों के विषय में सारगर्भित जानकारी दी। प्रोफेसर वी.ए.चौपाडे़ कुलपति एकेएस विश्वविद्यालय ने एफडीपी प्रोग्राम एवं नैक की महत्ता के विषय में व्याख्यान दिया। प्रोचांसलर इंजीनियर अनंत कुमार सोनी ने विश्व विद्यालय की गतिविधियों के विषय में एवं भविष्य में नेक एक्रीडिटेशन के परिपेक्ष परिपेक्य में व्याख्यान दिया। उद्घाटन सत्र में मुख्य अतिथि प्रोफेसर एम. राम कृष्णा ने एसडीपी प्रोग्राम के विषय में उद्बोधन दिया।उद्घाटन सत्र में प्रोफेसर आर. एन .त्रिपाठी ओएसडी ने अतिथियों का आभार प्रदर्शन किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ.अखिलेश ए.बाऊ, कोऑर्डिनेटर आइक्यूएसी ने किया। एफडीपी प्रोग्राम के सफल आयोजन का दायित्व विश्वविद्यालय के कोऑर्डिनेटर आइक्यूएसी प्रोफेसर कमलेश चौरे, प्रोफेसर अखिलेश ए.बाऊ एवं प्रोफेसर सूर्य प्रकाश गुप्ता को सौंपा गया है।एसडीपी प्रोग्राम के दौरान प्रोफेसर एम.राम कृष्णा एवं प्रोफेसर ज्योति यरलागड्डा ने नेक एक्रीडिटेशन के विषय में विभिन्न सेशन के माध्यम से सातों क्राइटेरिया के विषय में विस्तार से समझाया ।विश्वविद्यालय के नैक एक्रीडिटेशन में इस एफडीपी प्रोग्राम का महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। ऐसी कामना विश्वविद्यालय प्रबंधन ने की है।

यह भी पढ़ें:   सांस्कृतिक निदेशालय के तत्वावधान में संगीत के स्वरों से सराबोर विश्व संगीत दिवस मना।

Leave A Reply

Your email address will not be published.